Posted inArticlesNational

दिवाली में लाएं चेहरे पर सोने सा निखार : शहनाज़ हुसैन

दिवाली का त्यौहार शुरू हो चुका है। स्वभाभिक है कि दीपों के इस त्यौहार में आप भी रंगों की तरह दमकना चाहती है। दिवाली में हम घर बाहर सभी जगह को सुन्दर बनाने तथा सजाने में कोई कसर नहीं छोड़ते/दिवाली के त्यौहार में घर की सफाई, डेकोरेशन, लाइटिंग तथा शॉपिंग की ज्यादा जिम्मेदारी महिलाएं ही […]

Posted inArticlesKawardhaMain News

बात बेबाक : फिर गरमाने लगी ठंडी पड़ चुकी राजनीतिक फिजा

कबीरधाम में पुलिसिया लापरवाही से जन्मे भगवा कांड के बाद जागे हिंदुत्व के बहाने कबीरधाम की ठंडी पड़ चुकी राजनीतिक फिजा धीरे धीरे फिर गरमाने लगी है । हालांकि अभी विधानसभा चुनाव होने को लगभग दो साल बाकी है किंतु हलचल अभी से शुरू हो गई है । लंबे समय से मुद्दाहीन भाजपा को झोली […]

Posted inArticlesBreaking NewsMain NewsNational

अलकरहा गोठ ल तो देखव ये नेता मन के

– परमानंद वर्मा चुनाव के मौसम अभी आय तो नइहे फेर दिन लकठियावत जात हे, तब सबो पारटी वाले मन मुद्दा के खोज मं निकल परे हे। कोनो जोतिसी मन कहि दीन- राम के सरन मं जाव, कोनो कहि दीन धरमांतरन के मुद्दा उछालौ, तब कोनो किहिन महंगाई, किसान, मजदूर अउ आदिवासी-हरिजन के सरन मं […]

Posted inArticlesBreaking NewsMain NewsNational

जेनेरिक मेडिसिन: महंगी स्वास्थ्य सेवा के दौर में एक बड़ा वरदान

सस्ती दवाईयों से गरीब और कमजोर परिवारों को मिलेगी राहत – विशाल छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा 20 अक्टूबर 2021 को जेनेरिक दवा दुकान की श्रृंखला श्रीधन्वंतरी मेडिकल स्टोर का शुभारंभ किया गया है। राज्य में बुनियादी स्वास्थ्य सुविधा को मजबूत करने की कड़ी में यह एक और नया कदम है। राज्य के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के […]

Posted inArticlesBreaking NewsMain NewsNational

टीम इंडिया : सफलतापूर्वक चुनौतियों का सामना

– नरेन्द्र मोदी, प्रधानमंत्री भारत ने टीकाकरण की शुरुआत के मात्र 9 महीनों बाद ही 21 अक्टूबर, 2021 को टीके की 100 करोड़ खुराक का लक्ष्य हासिल कर लिया है। कोविड -19 से मुकाबला करने में यह यात्रा अद्भुत रही है, विशेषकर जब हम याद करते हैं कि 2020 की शुरुआत में परिस्थितियां कैसी थीं। […]

Posted inArticlesMain NewsNational

आजाद हिंद फौज ने पहली बार फहराया राष्ट्रीय ध्वज

1921-1941 में पूर्ण स्वतंत्रता के लिए अपने रुख के कारण नेताजी सुभाष चंद्र बोस को विभिन्न जेलों में 11 बार जेल की सजा हुई। उन्हें सबसे पहले 16 जुलाई 1921 को 6 महीने के कारावास की सजा दी गई। 1941 में एक मुकदमे के सिलसिले में उन्हें कलकत्ता की अदालत में पेश होना था, लेकिन […]

Posted inNational

रक्षा निर्माण को मिली नयी उड़ान 7 नई कंपनियों का उदय

किसी भी बड़े सुधार को शुरू करने और पूरा करने के लिए बहुत धैर्य, प्रतिबद्धता तथा संकल्प की आवश्यकता होती है। हितधारकों की प्रतिस्पर्धी आकांक्षाओं को पूरा करते हुए यथास्थिति में बदलाव के लिए सूक्ष्म संतुलित प्रयास की आवश्यकता है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के कुशल मार्गदर्शन में, हमारी सरकार ऐसे मजबूत निर्णय लेने और महत्वपूर्ण […]

Posted inNational

बात बेबाक : खाकी की गलती से जलता कबीरधाम

कबीरधाम की राजनीति में जातिवाद का प्रवेश साफ-साफ दिखता है। योग्यता को दरकिनार कर जातिगत समीकरणों को आधार बना टिकटें बांटी गई। राजनीति में जातिवाद के हावी होने के चलते अब धर्म का राजनीति में प्रवेश ना हो इसकी कल्पना भी नहीं की जा सकती। ऐसे में अगर धर्म व जातिवादी राजनीति का चक्कर गोल-गोल […]

Posted inArticlesBreaking NewsMain NewsNational

जनजातीय समाज में शारदीय नवरात्रि

हेमेन्द्र क्षीरसागर (लेखक, पत्रकार व विचारक) हिन्‍दू धर्म से वनवासी समाज को अलग परिभाषित करने के सभी विभाजनकारी षड्यंत्र तब धवस्‍त हो जाते हैं, जब इनकी मान्‍यताएँ, पर्व, रहन-शैली, विचार मेल खाते हैं। बाघ देवी, ज्वाला देवी, गांव देवी और वन देवी की पूजा-अर्चना तथा अंचलों में मंदिर, पट, मढिया इसके ज्वलंत उदाहरण है। शारदीय […]

Posted inArticlesBreaking NewsMain NewsNational

मुझे भी शांति की तलाश है : गुरूदत्त

– देवराम यादव गुरूदत्त, जिनके पास सुंदरता, ज्ञान, हुनर, प्यार, परिवार, शोहरत, दौलत, सुख-सुविधाएं सब थी, मगर उन्हें शांति की तलाश थी, जिस शांति के बाद और किसी की तलाश न रहे ऐसी अमर शांति की। गुरूदत्त जिज्ञासु और सर्वोच्च कृति करने वाले इंसान थे। वे अपने फिल्म, गाने, गायक-गायिका के आवाज में वो भाव, […]

Posted inArticlesBreaking NewsMain NewsNational

संकल्प से सिद्धि के सूत्रधार नरेंद्र मोदी

पीयूष गोयल भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने स्वामी विवेकानंद के सपनों के अनुरूप भारत को जगद्गुरु और विश्वशक्ति बनाने की सोच के साथ संकल्पों को सिद्धि तक पहुंचाने का बेजोड़ काम किया है।गुजरात के मेहसाना शहर के छोटे से गाँव वडनगर में अभाव में पैदा हुआ एक बालक कैसे साहस, परिश्रम और दूरदर्शी सोच […]

Posted inRaipur

आज भी लोग भांजे में देखते हैं प्रभु राम की छवि…

-ओम प्रकाश डहरिया छत्तीसगढ़ की अस्मिता के प्रतीक माता कौशल्या के पुत्र भगवान राम का भांजा के स्वरूप में गहरा नाता हैै। इसका जीता-जागता उदाहरण है, छत्तीसगढ़ में सभी जाति समुदाय के लोग बहन के पुत्र को भगवान के प्रतिरूप अर्थात भांजा मानकर उनका चरण पखारते हैं। मोक्ष की प्राप्ति के लिए प्रभु श्रीराम से […]

Posted inArticlesBreaking NewsMain NewsNational

अलकरहा बिहाव के झारा-झारा नेवता

– परमानन्द वर्मा एक घौं के बात हे, इही शहर मं एक झन बने चाम सुंदर डोकरी रिहिसे। बने खाता-पीता घर के गउंटनीन आय। पक्की-पक्की घर-दुवार रहिसे। एको झन लोग-लइका नइ रिहिसे। आधा उमर मं बीच जिंदगी मं ओकर गउंटिया छोड़के परमधाम रेंग दीस। अब अकेला गउंटनीन कइसनो करके अपन जिंदगी काटत रिहिसे। अड़बड़ किटकिटहीन […]

Posted inArticlesRaipur

लघु वनोपज का कटोरा कोण्डागांव

वनों की गोद में बसे कोण्डागांव जिले में 90 प्रतिशत से अधिक आबादी वनांचलों में निवास करती है। वनों की सघनता एवं पर्वतीय स्थल संरचना के कारण यहां मैदानी क्षेत्रों की तरह खेती संभव नहीं हो पाती है। वनों से प्राप्त होने वाले वनोत्पाद वनवासियों के जीवन का आधार और रोजगार का साधन है। कोण्डागांव […]

Posted inArticlesNational

वृद्धों को नकारा समझना समाज की सबसे बड़ी भूल

अंतराष्ट्रीय वृद्ध दिवस 1 अक्टूबर पर विशेष वृद्धों की देखभाल की चिंता करते हुए प्रतिवर्ष 01 अक्टूबर को हम अंतर्राष्ट्रीय वृद्ध दिवस मनाते आ रहे हैं । इस दिवस की विडंबना यह है कि अपने जीवनकाल में पूरे परिवार को बरगद और पीपल के वृक्ष की तरह शीतल छाँव प्रदान करने वाला शख्स वृद्धावस्था में […]

Posted inArticlesBreaking NewsMain NewsNational

कृषि क्षेत्र का पुनर्जीवन, किसानों का सशक्तिकरण

– नरेन्द्र सिंह तोमर मंत्री, कृषि एवं किसान कल्याण, भारत सरकार कृषि भारतीय अर्थव्यवस्था की रीढ़ है। हमारे देश का लगभग 44 फीसदी श्रमबल खेती और इससे जुड़े कामधंधों से रोजगार प्राप्त करता है, या यूं भी कहा जा सकता है कि देश की 70 फीसदी आबादी खेती पर ही निर्भर है। इतनी बड़ी आबादी […]

Posted inArticlesBreaking NewsMain NewsNational

नरेन्द्र मोदी ने आर्थिक सुधारों को किया पुनर्परिभाषित, परिष्कृत और पुनर्निर्देशित

सैयद जफर इस्लाम (लेखक एक सांसद, भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता और ड्यूश बैंक, भारत केभूतपूर्व प्रबंध निदेशक हैं। यहां व्यक्त किए गए विचार,उनके व्यक्तिगत हैं।) भाजपा सरकार द्वारा आर्थिक पुनर्गठन को सरल बनाया गया और सेवाओं के वितरण पर जोर देते हुए विकास की गाथा में किया बदलाव 7 अक्टूबर 2001 को गुजरात […]

Posted inArticlesBreaking NewsMain NewsNational

शहरीकरण एक अवसर

– हरदीप एस. पुरी (लेखक भारत सरकार के आवास एवं शहरी कार्य तथा पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्री हैं।) शहरीकरण को सार्वभौमिक रूप से दुनियाभर की सरकारों के लिए विभिन्न रूपों और आकार में एक चुनौती के रूप में स्वीकार किया जाता है। संयुक्त राष्ट्र का अनुमान है कि 2050 तक भारत में काफी ज्यादा […]

Posted inArticlesNational

लीडरशिप एक ऐसा गुण हैं कि जीवन के विभिन्न क्षेत्रों में काम आता है

– सुश्री नीता लोधी लीडरशिप की भावना ऐसी हो जिसमें हमें किसी की मदद करनी है तो हमारे इस काम से चार लोग आगे आते हैं और वे भी सेवा भाव से दूसरे की मदद करते हैं l हमारी ईमानदारी के साथ नियत साफ होनी चाहिए और लक्ष्य निर्धारित होना चाहिएl लीडरशिप एक ऐसा गुण […]

Posted inArticlesMain NewsNational

आयुर्वेद और योग जैसी भारत की परंपराओं का गौरव

-सर्बानंद सोनोवाल (केन्द्रीय आयुष एवं बंदरगाह, जहाजरानी एवं जलमार्ग मंत्री) भारतीय चिकित्सा पद्धति सहस्राब्दी पुरानी है और यह समग्र स्वास्थ्य प्रदान करती है। स्वास्थ्य प्रतिमान में परिवर्तन ने पिछले कुछ वर्षों में आयुष प्रणालियों (अर्थात् आयुर्वेद, योग, प्राकृतिक चिकित्सा, यूनानी, सिद्ध, सोवा-रिग्पा और होम्योपैथी) में सबकी रुचि एक बार फिर से बहुत बढ़ी है। स्वास्थ्य […]