अम्बिकापुर (वीएनएस)। नेशनल ग्रीन ट्रिव्यूनल व पिंसिपल बेंच नई दिल्ली की ओर से पटाखों के उपयोग के संबंध में आदेश पारित किया गया है। दीपावली, छठ, गुरू पर्व, क्रिसमस व नया वर्ष के अवसर पर पटाखा फोडऩे की अवधि दो घंटे निर्धारित की गई है।

अतिरिक्त जिला दंडाधिकारी ने बताया है कि जिले में केवल हरित पटाखों का विक्रय व उपयोग सुनिश्चत किया जाना है। उन्होंने यह भी बताया है कि दीपावली के अवसर पर रात 8 बजे से रात 10 बजे तक, छठ पूजा के अवसर पर सुबह 6 बजे से सुबह 8 बजे तक, गुरू पर्व के अवसर पर रात 8 बजे से 10 बजे तक, क्रिसमस व नया वर्ष के अवसर पर रात 11:55 बजे रात्रि 12:30 बजे तक पटाखे फोड़े जा सकेंगे।

उच्चतम न्यायालय ने पटाखों के उपयोग के संदर्भ में आवश्यक निर्देश दिए है। जिसके अनुसार कम प्रदूषण उत्पन्न करने वाले पटाखों की बिक्री केवल बिक्री लाइसेंस धारियों की ओर से की जाएगी। केवल उन्हीं पटाखों को बाजार में बेचा जा सकेगा जिनके उत्पन्न ध्वनि का स्तर निर्धारित सीमा के भीतर हो। सीरीज पटाखों अथवा लडिय़ों की बिक्री पर प्रतिबंध लगाया गया है। पटाखों के निर्माण में यदि लिथीयम, आर्सेनिक, एन्टीमनी, लेड व मर्करी का उपयोग हुआ हो तो उनपर प्रतिबंध लगाया गया है। आनलाइन अर्थात ई-व्यापारिक वेबसाइटों पर पटाखों की बिक्री पर प्रतिबंध लगाया गया है। जिला प्रशासन द्वारा इस संबंध में जारी आदेश का उल्लंघन होता है तो उल्लंघन कर्ता के विरूद्ध कड़ी दंडात्मक कार्रवाई की जाएगी।