क्रेडिट आउटरीच मेगा कैम्प मे 279 प्रकरणों में रु. 11.71 करोड़ का ऋण स्वीकृत
क्रेडिट आउटरीच मेगा कैम्प मे 279 प्रकरणों में रु. 11.71 करोड़ का ऋण स्वीकृत

बेमेतरा (वीएनएस)। भारत सरकार के वित्तीय सेवाएं विभाग के निर्देशानुसार जिला अग्रणी बैंक कार्यालय ने कल क्रेडिट आउटरीच मेगा कैम्प का आयोजन बेमेतरा के दुर्ग रोड स्थित एक वाटिका में कलेक्टर विलास भोसकर संदीपान की अध्यक्षता में आयोजित किया गया। जिसमें विशिष्ट अतिथि गीता त्रिपाठी महाप्रबंधक नेटवर्क-3 भारतीय स्टेट बैंक स्थानीय प्रधान कार्यालय भोपाल, अनुविभागीय अधिकारी (राजस्व) बेमेतरा दुर्गेश वर्मा, राजेश कुमार उप महा प्रबंधक (व्य एवं परि.) आंचलिक कार्यालय बिलासपुर, एस एन ठाकुर क्षेत्रीय प्रबंधक, क्षेत्रीय ब्यवसाय कार्यालय बालौदा बाजार उपस्थित थे। कलेक्टर ने बैंकों में लंबित प्रकरणों एवं कृषि ऋण के आहरण/वितरण के लिए इस तरह का मेगा लोन मेला 22 नवम्बर को टाउन हाल बेमेतरा में आयोजित किये जाने के लिए सभी बैंकों को निर्देशित किया गया। त्रिपाठी महाप्रबंधक नेटवर्क-3 ने शासकीय योजनाओं के क्रियान्वयन के लिए मेगा कैम्प के आयोजन के संबंध में ग्राहकों को जानकारी दी। जिले के विकास के लिए जिला स्तर पर इस तरह के आयोजन करना केन्द्र सरकार के योजनाओं को लागू करने के लिए इस तरह का आयोजन आवश्यक है। जहाँ एक ही जगह पर सारी जानकारी उपलब्ध कराया जाता है। इसके साथ साथ डिजिटल बैंकिंग, ऑनलाइन फ्राड, प्रधान मंत्री सुरक्षा बीमा, प्रधान मंत्री जीवन ज्योति बीमा, अटल पेंशन योजना एवं सुकन्या समृद्धि योजना के संबद्ध में विशेष रूप से चर्चा किया गया।

जिसमें शासकीय प्रायोजित योजना (प्रधानमंत्री स्व. निधि योजना, प्रधानमंत्री मुद्रा योजना, प्रधानमंत्री रोजगार सृजन योजना, मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना अन्त्यावसायी एवं आदिवासी स्वरोजगार योजना, स्टैंड अप इंडिया, आत्मनिर्भर भारत एवं राज्य सरकार ने प्रायोजित अन्य स्थानीय योजनाओं के साथ स्व-सहायता समूह के अन्तर्गत राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन/राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन इत्यादि) के 279 प्रकरणों में रु. 11.71 करोड़ का ऋण स्वीकृति एवं वितरण किया गया। क्रेडिट आउटरीच मेगा कैम्प में विभिन्न बैंकों के अधिकारी/ कर्मचारी, राज्य सरकार के शासकीय प्रायोजित योजना से संबंधित विभागों के अधिकारी भी ग्राहकों के मार्गदर्शन के लिए उपस्थित थे। कार्यक्रम को सफल बनाने में जिले के पुलिस विभाग एवं जिला विधिक प्राधिकरण का भी विशेष सहयोग रहा। कार्यक्रम का संचालन संतोष आयम, मुख्य प्रबंधक (जिला अग्रणी बैंक) ने किया गया।