विधायक वोरा और महापौर धीरज ने सीएम का माना आभार

दुर्ग (वीएनएस)। नगर पालिक निगम सीमा क्षेत्र अंतर्गत मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के मंशा के अनुरूप मुख्यमंत्री सस्ती दवा योजना प्रारंभ की गई है। विधायक अरुण वोरा और महापौर धीरज बाकलीवाल ने मुख्यमंत्री का आभार मानते हुए कहा शहर की आम जनताओं को मिलेगी सुविधा जिसके तहत नल घर शॉपिंग काम्प्लेक्स एवं रायपुर नाका मुक्तिधाम के पास जेनेरिक दवाओं का दुकान 15 अक्टूबर तक खुला जाना प्रस्तावित है।जिसका शुभारंभ मुख्यमंत्री भूपेश बघेल द्वारा वर्चुवल कार्यक्रम में किया जाना है। आम नागरिकों को मिलेगी सुविधा जेनिरिक दवाइयां में एमआरपी रेट से 58 प्रतिशत डिकाउंट में प्राप्त होगी।

महापौर धीरज बाकलीवाल ने जलकार्य विभाग प्रभारी संजय कोहले,युवा कांग्रेस महासचिव संदीप वोरा के अलावा अधिकारी सहायक अभियंता एआर रंगहडाले के साथ निरीक्षण करते हुए कहा कि 15 अक्टूबर के पहले दोनो दुकानों का काम जल्द के लिए निर्देश दिए।शहर में रहने वाले आम जनताओं को अब जेनेरिक दवा खरीदने के लिए दुकानों के चक्कर नहीं लगाने होंगे। उन्हें यह दवाएं सस्ते दाम पर मिलेंगी। मुख्यमंत्री सस्ती दवा दुकान योजना के शहर में अब उच्च गुणवत्ता की जेनेरिक दवाइयां सस्ते दरों पर उपलब्ध कराने के लिए नगर पालिक निगम ने दो स्थानों चयन कर लिया गया है। महापौर ने कहा कि इस योजना का प्रमुख उद्देश्य जेनेरिक दवाइयों की बढ़ती हुई मांग,गुणवत्ता का किसी भी रूप में ब्रांडेड दवाइयों से कम न होना, ब्रांडेड दवाइयों से कई गुना कम कीमत पर मिलना है,जेनेरिक दवाइयों की निश्चित उपलब्धता सुनिश्चित कराने तथा लोगों को आसानी से यह दवाइयां उपलब्ध कराने के लिए मुख्यमंत्री सस्ती दवा दुकान योजना एक बेहतर माध्यम साबित होगा। इस योजना से जेनेरिक दवाई के अलावा सर्जिकल आइटम की भी नियमित आपूर्ति की जाएगी। नागरिको को संजीवनी की दवाएं भी मिलेंगी, दवाइयों व सामग्रियों की बिक्री इन दुकानों में की जाएगी।

मुख्यमंत्री सस्ती दवा दुकान योजना में जेनेरिक दवाओं के समेत अन्य सौंदर्य प्रसाधन सामग्री की बिक्री की जाएगी। जिससे दुकान का संचालन बिना किसी परेशानी के फायदा लेते हुए किया जा सके। जानकारी के मुताबिक इन दुकानों पर जेनेरिक दवाओं के अलावा इसके अलावा रिंग गार्ड, बाम,आयोडेक्स,विक्स वेपराइजर,डेटाल,इच गार्ड, वेपराइजर मशीन, सेनेटरी पैड, गर्भनिरोधक के अलावा अन्य ऐसे ही आइटम की बिक्री होगी।लेकिन दुकानदार ब्रांडेड दवाएं नहीं बेच सकेगा।